Hero Company Ka Malik Kaun Hai { सारी जानकारी }

0
260
Hero Company Ka Malik Kaun Hai { सारी जानकारी }

 

Hello Doston कैसे हो आप सब उम्मीद है की आप सब बहुत ही अच्छे होंगे आज के इस कमाल के Blog के अंदर हम आप सभी को बताने वाले हैं Hero company Ka Malik Kaun Hai यदि आप जानना चाहते हो सारी जानकारी कि हीरो कंपनी क्या है , हीरो कंपनी कैसे शुरू हुई तो आप हमारे इस Blog को आखिर तक जरूर पढ़ो ताकि हम आपको सारी जानकारी दे सकें | काम करो ऐसा कि पहचान बन जाए चलो कुछ यूं ही निशान बन जाए  जिंदगी तो हर कोई काट लेता है दोस्तों जिओ इस कदर कि मिसाल बन जाए 

 

दोस्तों आज मैं बात करने जा रहा हूं दुनिया की सबसे बड़ी टू व्हीलर कंपनी हीरो मोटोकॉर्प यानि Hero ग्रुप की जिसकी शुरुआत देश आजाद होने से पहले ही Brijmohan Lall Munjal ने अपने तीन भाइयों के साथ मिलकर की थी और उनका सपना था एक ऐसा वाहन बनाना जो गरीबों के लिए काम करने का सबसे सस्ता जरिया बन जाए लेकिन इस सपने को साकार करने के लिए भी इनके पास उतनी पूजी नहीं थी

 

Hero की शुरुआत हुई ( पूरी जानकारी ) :-

 

दोस्तों Brijmohan Lall Munjal अपने बिजनेस की शुरुआत साइकिल के पार्ट्स बेचने से शुरू की थी और सिर्फ पार्ट्स बेचने से ही आज दुनिया का सबसे बड़ा टू व्हीलर कंपनी बनाया अब बात करते हैं कि इन्होंने क्या काम किया जिसकी वजह से इनकी जिंदगी बदल गई और यह एक सक्सेसफुल कंपनी को बना सकें , दोस्तों कहानी की शुरुआत होती है 1 जुलाई 1923 से जब अविभाजित भारत के कमालिया नाम के जगह पर Brijmohan Lall Munjal जन्म हुआ  भारत और पाकिस्तान के अलग हो जाने पर अब कमालिया पाकिस्तान में बृजमोहन लाल , सिर्फ 20 साल की उम्र में अपने तीन भाइयों Dayanand Munjal , Satyanand Munjal और Om Parkash के साथ कमालिया से Amritsar आये इन्होंने बहुत ही छोटे स्तर पर साइकिल के पार्ट्स का काम किया जैसे-जैसे कारोबार बढ़ा तो इनके पास कुछ पैसे भी इकट्ठा हो गए और फिर उन्होंने 1954 में लुधियाना में Hero Cycles की स्थापना की जहां वो साइकिल के लिए ( चैन और हैंडल ) बनाते थे अगले 2 साल बाद सरकार ने साइकिल बनाने वाली कंपनियों के लिए टेंडर निकाला 

 

और उसमें हीरो साइकिल ने भी अपनी बीट लगाएं और उनकी किस्मत से सरकार की तरफ से उनको सेटल बनाने का लाइसेंस मिल गया।  जिसके बाद उन्होंने अपनी पूंजी की मदद से और सरकार से 6 लाख की मदद लेकर उन्होंने अपनी कंपनी को शुरू किया हालांकि इनके जो प्रोडक्ट होते थे इतने अच्छे नहीं होते थे लेकिन उन्होंने इतना मेहनत किया और अपने प्रोजेक्ट को दिन-प्रतिदिन अच्छा बनाते गए | दोस्तों धीरे-धीरे इन्होंने इतना मेहनत किया कि 1 साल में अपने प्रोडक्शन को बनाते हुए उन्होंने 1 साल में 7500 कर लिया और फिर 1975 में भारत में साइकिल बनाने की यह कंपनी सबसे बड़ी कंपनी बन गई  जिसके बाद साइकिल को भी बड़े-बड़े देशों में भेजना शुरू कर दिया और इनका ब्रांड अलग-अलग देशों के शहरों में जाने लगा और लोग इनके प्रोडक्ट को इस्तेमाल करने लगे अगर आज की बात करें तो हर दिन कम से कम 19000 प्रोडक्ट को बनाया जाता है तो कुछ इस तरीके से आज हीरो जो कंपनी है वह इतनी पॉपुलर कम्पनी बन चुकी है हमारे हीरो कंपनी की शुरुआत कुछ इस तरीके से हुई लेकिन आज के इस कमाल के Blog में हम आप सभी को यह भी बताएंगे कि हीरो कंपनी का मालिक कौन है तो आप इस Blog को आगे तक जरूर पढ़ें

 

Hero Company Ka Malik Kaun Hai :-

Hero Company Ka Malik Kaun Hai

दोस्तों कई बार क्या होता है कि हम उनके सामान को तो यूज करते हैं लेकिन हम उनके मालिक के बारे में नहीं जानते हैं जो जानना हमें बहुत जरूरी है आज हम आपको बताने वाले हैं कि हीरो कंपनी का मालिक कौन है , जैसे कि आप सभी को पता होगा कि यह बहुत फेमस कंपनी है और यह कंपनी मोटरसाइकिल और साइकिल बनाती है और इसकी शुरुआत कैसे हुई हमने आपको ऊपर बता दिया है अब बात करते हैं इस कंपनी का मालिक कौन है, Brijmohan Lall Munjal हीरो कंपनी के मालिक हैं जिनका जन्म 1 जुलाई 1923 को पाकिस्तान के कमालिया में हुआ था में हुआ और इनका देहान्त 1 नवंबर 2015 नई दिल्ली , भारत में हुआ था 

 

Hero Ka Full Form क्या है :-

 

दोस्तों हम आपको बताने वाले हैं HERO के Full Form के बारे में। दोस्तों HERO का Full Form है —–Higher Education Research Opportunities 

 

Hero किस देश की Company है :-

 

दोस्तों HERO भारत की Company है। इस Company की शुरुआत 19 January 1984 में हुई थी,सबसे पहले इसका मुख्यालय नई दिल्ली ( New Delhi ) भारत में हुई थी। दोस्तों आप लोगों ने बहुत सुना होगा Hero Honda के बारे में और सोचते होंगे ये दोनों अब अलग क्यू हो गए। तो दोस्तों आपकी जानकरी के लिए बता दूँ कि Honda जो Company है वह जापान की Company है वह Hero Company के साथ मिल कर दोनों एक साथ काम करते थे लेकिन कुछ वजह से दोनों Company अब अलग हो गयीं। 

 

Hero और Honda ये दोनों कब अलग हुए :-

 

दोस्तों जैसा की आप लोग जानते होंगे Hero Honda Company दोनों एक साथ जुड़ी हुईं थीं लेकिन December, 2010 में Hero ग्रुप ऑफ़ इंडिया के निदेशक मंडल ने जापान के Honda Company के बीच सारे संयुक्त ख़त्म कर दिये। 

 

Also , Read 

 

OYO Ka Malik Kaun Hai

 

Doston आज के इस Blog में इतना ही जैसे की हमने आप सभी को बताया है की Hero Company Ka Malik Kaun Hai ( सारी जानकारी ) हम आप सभी को दिया यदि आप सभी को  हमारा Blog पसंद आया हो तो इससे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे ताकि हम आप सभी के लिए और भी ऐसे Blogs लाते रहे 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here