OYO Ka Malik Kaun Hai { सारी जानकारी }

0
209
OYO Ka Malik Kaun Hai

 

Hello Doston इस कमाल की पोस्ट में हम आपको बताएंगे OYO Ka Malik Kaun Hai और दोस्त इस कमाल के पोस्ट में आपको यह भी पता लगेगा की OYO कब से शुरू हुआ था और oyo की शुरुआत कैसे हुई थी तो यह सब जानकारी पूरी जानने के लिए हमारे इस पोस्ट को आप पूरा पढ़े आपको पूरी जानकारी मिल जाएगी | दोस्तों OYO के मालिक का जन्म 16 नवंबर 1993 हुआ था और दोस्तों उनका नाम रितेश अग्रवाल है और दोस्तों इन्होंने अपनी 12वीं तक की पढ़ाई अपने जिला के सीक्रेट हार्ट स्कूल से पूरी की थी उसके बाद में अपनी आगे की पढ़ाई पूरी करने के लिए वे कोटा गए और कोटा आने के बाद उनका मन पढ़ाई में इतना नहीं था और उन्हें घूमने फिरने का बहुत शौक था और वह अपने दोस्तों के साथ अलग-अलग जगह घूमना चाहते थे। 

 

OYO की शुरुआत कैसे हुई :-

तो दोस्तों ओयो की शुरुआत किस तरीके से होती है 1 दिन Ritesh agarwal घूमते घूमते कहीं पर जा रहे थे तो उनको एक आईडिया आता है कि जो यह होटल होते हैं क्यों ना इन पर कुछ करा जाए तो वह बैठकर कुछ सोचने लगे और उन्होंने आईडिया लगाया कि जो यह होटल होते हैं जो छोटे होटल होते हैं उनसे मैं बात करता हूं कि मैं तुम्हारी हेल्प करूंगा और तुम्हारा होटल चलने लगेगा तो फिर एक होटल वाले के पास जाते हैं और उसको कहते हैं कि मैं तुम्हारा होटल का काम चला दूंगा पर तुमने मेरे साथ पार्टनरशिप करनी होगी होटल वाला बोलता है चल चल बेटा जा तू घर जा होटल वाले को बोलते हैं तुम्हारा कुछ नहीं लगेगा जो पैसा लगेगा मेरा लगेगा होटल वाला सोचते हैं बड़ी बाप की औलाद है कोई नहीं लगाने दो और 

 

जो प्रॉफिट होगा आधा-आधा उसके बाद वे होटल के कमरे में जाते हैं और उस में सब कुछ ठीक-ठाक करा देते हैं उसके बाद देखते देखते वह होटल चलने लगता है तो होटल वाले उनको बोलता है कि मेरा एक और होटल है उसको भी इसी तरीके से चला दे फिर उसके बाद उनके दूसरे होटल में चले जाते हैं और उसको भी वे इसी तरीके से थोड़ा सा पैसा लगाकर चला देते हैं उसके बाद रितेश अग्रवाल के पास और होटल वाले भी आने लगे और कहने लगे कि आप हमारा भी होटल चला दो फिर रितेश अग्रवाल सबके होटल में थोड़ा सा पैसा लगाकर और ज्यादा प्रॉफिट कमान लगे और सबको होटल चलने लगा और 

 

OYO Ka Malik Kaun Hai ( पूरी जानकारी )

OYO Ka Malik Kaun Hai

दोस्तों उसके बाद रितेश अग्रवाल को कोडिंग आती थी 8 साल की उम्र से ही तो उन्होंने अपना एक ऐप बना लिया और उसके बाद उस ऐप में उन्होंने इस तरीके से सिस्टम रखा के तीन क्लिक और 5 सेकेंड में रूम बुक और ना कोई चेकिंग का झंझट ना कुछ और झंझट और जो ऐप में होटल दिखाया जाता था बिल्कुल होटल का रूम वैसे ही रहता था इसलिए ओयो रूम इतना फेमस हो गया और उसके बाद रितेश अग्रवाल ने पूरे इंडिया में ओयो रूम कर लिए और आज दोस्तों रितेश अग्रवाल का बिजनेस पूरे वर्ल्ड में चल रहा है यहां तक की दोस्तों चाइना में भी 50% OYO Rooms ही चल रहा हैं और दोस्तों आज OYO होटल इंडिया में नंबर वन पर है और दोस्तों जो इसके नीचे है वह इसके आसपास भी नहीं है और यह हमेशा नंबर वन पर ही रहेगा

 

OYO Ka Full Form क्या होता है :-

दोस्तों आप के मन में कभी ना कभी यह तो सवाल आता होगा कि OYO का फुल फॉर्म क्या होता है हम कई बार ओयो रूम में तो जाते हैं लेकिन हमें ओयो के बारे में कुछ नहीं पता होता है लेकिन आज किस कमाल के Blog के अंदर हम आपको यह भी बताने वाले हैं कि OYO Ka Full Form क्या होता है ओयो का मतलब होता है ( On Your Own ) दोस्तों अब आपको पता चल गया होगा कि OYO का मतलब क्या होता है अगर आपसे कोई कभी पूछने लेता है कि ओयो का मतलब क्या होता तो आप बहुत आसानी के साथ उनको जवाब दे दोगे

 

OYO होटल इतना क्यों फेमस है :-

OYO होटल इसलिए फेमस है दोस्तों क्योंकि वह कम पैसों में अच्छी फैसिलिटी देता है उसमें सब कुछ मिलता है |  OYO में बेडशीट टॉयलेट सब अच्छे तरीके से साफ सुथरा मिलता है और दोस्तों वहां पर WIFI भी मिलता है और दोस्तों वहां पर एक सबसे अच्छी बात है अगर आपको कोई दिक्कत होती है रूम में तो आप सीधा मैनेजर से बात कर सकते हो और मैनेजर आपकी उस दिक्कत तो दूर कर देगा जो की यह सबसे अच्छी बात होती है OYO रूम की और दोस्तों यह हमें बहुत कम दाम में अच्छी सर्विस देते हैं और होटल होते हैं वह बहुत ज्यादा पैसे लेते हैं और सर्विस भी इतनी अच्छी नहीं देते दे पाते पर ओयो रूम मैं अच्छी तरह से मिलती है इसीलिए तो OYO होटल इतना फेमस है और दोस्तों इस की कंपटीशन में कोई नहीं है और यह कुछ सालों में और भी ज्यादा बढ़ जाएगा और इसको कोई नहीं पकड़ पाएगा यह इतना बड़ा हो जाएगा कुछ सालों में क्योंकि दोस्तों यह अपनी जो सर्विस टीम होती है 

 

उसको हमेशा अपग्रेड करते रहते हैं उन्होंने एक ट्रेनिंग सेंटर भी बना रखा है | जिससे कि वहां पर लोग ट्रेनिंग करते रहते हैं अगर कोई काम करने वाला किसी ग्राहक के साथ बदतमीजी करता है तो उसे यह काम से नहीं निकाल दे तो उसे यह सीधा अपने ट्रेनिंग सेंटर में भेज देते हैं और वहां पर उसे ट्रेनिंग देते हैं और फिर वह ट्रेनिंग लेकर वापस आता है तो फिर उस पर निगाह रखते हैं कि यह अब ठीक से काम कर रहा है या नहीं कर रहा और यह अपने कर्मचारी को काम से नहीं निकालते और नई OYO का कोई ऐसा कर्मचारी होता है जो औरों को काम छोड़ना पसंद करता है आज तक जो भी उनके साथ काम कर रहा है वह आज तक उन्हीं के साथ काम कर रहा है किसी ने भी उनका काम नहीं छोड़ा प्रिय दोस्तों बच्चा जब गिर जाता है तो उसको उठाकर चलने के लिए कहते हैं उसको थोड़ी कहते हैं यह नहीं चलेगा तो यहीं इनका जुगाड़ है अगर कोई गलती करता है यह उसे काम से नहीं निकालते उसको दोबारा ट्रेनिंग देतें हैं 

 

Also, Read

Avneet Kaur Biography

Dev Joshi Biography

और फिर उसको दोबारा काम पर छोड़ देते हैं उसका काम देखते हैं कैसा काम कर रहा है यह कैसा नहीं कर रहा है इसलिए ओयो OYO पूरे वर्ल्ड में इतना फेमस है और दोस्तों अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो प्लीज हमारी पोस्ट को अपने दोस्तों में शेयर करो और उन्हें भी OYO के बारे में जानकारी दो कि OYO Ka Malik Kaun Hai , और OYO कितना अच्छा काम करता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here